Programming kya Hai? 

दोस्तों एस लेख द्वारा हम Programming kya hai? और इसमें करियर कैसे करें इसके बारे में सीखेंगे। इस युग को डिजिटल युग कहा जाता है, क्योंकि इस युग में कम्प्युटर, मोबाइल और अन्य डिजिटल उपकरणों का तेजीसे इस्तेमाल बढ़ रहा है। कुछ कामों को डिजिटल उपकरणों के बिना किया ही नहीं जा सकता। जिन कामों को कई युग पहले मेहनत से किया जाता था, उनही कामों को हम आसानी डिजिटल उपकरणों की मदत से और कम समय में कर सकते है। लेकिन कभी आपने सोचा था की यह जो उपकरण या जिसे हम डिवाइस कहते हैं वो किस तरह से काम करते है? इसका जवाब है “प्रोग्रामिंग।”, प्रोग्रामिंग से हम कम्प्युटर या अन्य डिवाइसोकों कोई काम निरंतर और अचूकता से करने को कह सकते है। इस लेख द्वारा हम इसी Programming के बारे में जानेगे। Programming क्या है? यह कैसे किया जाता है? और Programming से पैसे कैसे कमाए? इन सभी सवालों का जवाब इस लेख में देखेंगे। तो, चलिये देखते है।

 



programming kya hai
programming kya hai






What is Programming in hindi? प्रोग्रामिंग क्या है?


Programming एक ऐसा तरीका है, जिससे हम कम्प्युटर या किसी डिजिटल उपकरणों को कोई काम करने को कहते है। जैसे की- कोई बटन दबाने पर प्रिंट निकालना, पूरे स्क्रीन background को चेंग कर देना, कैल्कुलेटर की तरह काम करना, आदि। Programming सूचनाओं का संग्रह होता है, जिससे किसी काम को निरंतर या स्टेप-बाय-स्टेप किया जाता है। Programming करते समय हो भी लिखते है उसे "code" कहा जाता है। इसीलिए, Programming को हम कोडिंग भी कहते है।

Programming में ऐसे कई सारे algorithms होते है जिनकी मदत से बढ़ी से बढ़ी समस्याओं को हल करना आसान होता है। हम इन algorithms का सहारा लेकर हर लॉजिकल प्रोब्लेम को सुलझा सकते है। Programming से हम websites, applications बना सकते है। साथ ही डाटा साइन्स, मशीन लर्निंग और artificial intelligence में भी इसका इसका इस्तेमाल होता है।   

 

                                                              

Programming language क्या होती है? Programming भाषाएँ क्या होती है?


जिस तरह बातचीत करते समय अलग-अलग भाषाओं का इस्तेमाल किया जाता है। उसी तरह हम Programming में भी अलग-अलग भाषाओं का इस्तेमाल करते है, जिसे Programming language कहा जाता है। प्रोग्रामिंग language अक्षर, चिन्ह और नंबरों का संग्रह हो है। इन्हे इस्तेमाल करने के कुछ नियम होते है। जिसे "syntax" कहा जाता है। यह syntax Programming language के अनुसार अलग-अगल होता है। C, C++, Java, Python, HTML यह Programming language के कुछ उदाहरण है।

 

Types of Programming Language in Hindi- Programming भाषाओं के कोनसे प्रकार होते है?


Programming में कई सारे काम होते है, उनके अनुसार Programming भाषाओं का चयन होता है। जैसे की- HTML से  हम वैबसाइट बनाते है और CSS से हम उसे डिज़ाइन करते है।    

 

Procedural Programming Languages 

यह Programming languages ऐसी language होती है जिनपे स्टेप-बाय-स्टेप प्रोसैस से काम किया जाता है। किसी भी काम को पूरा करने के लिए इन भाषाओं में एक निश्चित प्रोसैस होता है। जिनके आधार पर हम वह काम पूरा कर सकते है। ऐसी Programming भाषाओं में Pre-Defined Functions होते है जिसकी मदत से काम करना आसान हो जाता है इसी कारण नए डेवेलोपेर्स के लिए यह मददगार होती है।  

Object Oriented Programming Language

इन Programming भाषाओं में मुख्य:ता object यानि असली दुनिया के कुछ ऑब्जेक्ट और प्रॉब्लेम्स पर ध्यान दिया जाता है। Programming की भाषा में जो Class और Objects होते है उनका ही ज्यादातर इस्तेमाल OOP यानि Object Oriented Programming Languages में किया जाता है। ऐसी भाषाओं में coding करना आसान होता है और कोई समस्या को सुलझाना भी।

Functional Programming Language


अगर आप Programming के बारे में थोड़ा-बहोत जानते हो। तो, आपको Functions के बारे में पता होगा। Functional Programming में ज़्यादातर Functions काही इस्तेमाल होता है। इन्हे इस्तेमाल करने से error की समस्या कम होती है।

 

 

Scripting

Scripting Programming language पहले से ही मौजूद कोड या develop सॉफ्टवेर को हैंडल करने में इस्तेमाल होती है। जैसे की javascript, जिससे हम HTML और CSS के साथ छेडखानी कर सकते है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

How to be a Programmer in Hindi? प्रोग्रामर कैसे बने?


Programmer बनने के सफर में आपको निरंतर प्रैक्टिस, अभ्यास और सेल्फ ग्राउट देख्नने मिलती है। programmer बनते समय आपको कुछ चीजों का ध्यान देना होता है। जैसे- किस फील्ड को चुने, कोनसी Programming language से शुरुआत करें? आदि। नीचे दिए गए क्रियाओं से आप एक programmer बनने का सफर पूरा कर सकते है।

 

1)  Programming Language चुने।

अगर आप Programming में नए है, तो आपको Programming करने में मजा आना चाहिए इसीलिए एक आसान और मजेदार Programming language का चयन करना महत्वपूर्ण होता है। जिससे की आप बोअर न हो। अगर आप पहले से ही Programming के बारें में जानते हो तो language का चयन करना आपके लिए आसान होगा।

 

 

2)  Course चुने।

वैसे ये जरूरी नहीं की कोर्स को करना चाहिए। लेकिन, Programming में ज्यादा कान्सैप्ट को अच्छे से सीखने के लिए आप कोई फ्री या पैड course खरीद सकते है। या किसी College में डिप्लोमा कर सकते है। जिससे आपको ज्यादा नॉलेज मिलेगी और आप एक अच्छे प्रोग्रामर बनेगे।


3)  Industry को चुने।

आप Programming के बारे में जानते हो तो, आपको किस क्षेत्र में रुचि है और आप कहाँ काम करना चाहते हो यह समझना जरूरी है। फिलहाल Web development, app development, blockchain, आदि क्षेत्रों में programmers की demand बढ़ रही है।

 

4)  अच्छा Portfolio बना।

Programmer पैसे कमाने के लिए Freelancing कर सकते है या जॉब पाकर पैसे कमा सकते है। इन दोनों के लिए एक अच्छा portfolio बिल्ड करना जरूर होता है। जिसमें हमारी knowledge और स्किल्स के बारें में समझना आसान हो। इससे आप अच्छा काम पा सकते है।

 





 

 

Best Programming Language for Beginner in Hindi- बेस्ट Programming भाषाएँ

 Python

Python Programming language सबसे ज्यादा डिमांडिंग लैड्ग्वेज है। यह सीखने में आसान है, क्योंकि इसका syntax यानि रचना, बाकी Programming languages से आसान होती है। Programming के सारे कान्सैप्ट आप समझकर उन्हे इस्तेमाल करना चाहते हो तो, Python द्वारा आप उन्हे समझ सकते हो।

  Java

Java programmer की डिमांड बहुत ज्यादा है। अगर आप Programming में करियर करना चाहते हो तो, Java की नॉलेज आपके लिए फायदेमंद साबित होगी। यह Android और IOS डेव्लपमेंट में अहम कार्य करती है।

3)      Javascript

यह language ज़्यादातर Website डिवैलप करते समय इस्तेमाल करते है। ऐसा कहा जाता है की, अगर Website में जान डालनी हो तो Javascript का इस्तेमाल किया जाता है। आप किसी भी कार्य को इम्प्लेमेंट करना चाहते हो तो, Javascript का इस्तेमाल कर सकते हो।

4)  C

Programming की शुरुआत के लिए सी language भी एक अच्छा ऑप्शन है। सी++ से आप C Programming के Updated फीचर का इस्तेमाल कर सकते है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

तो दोस्तों, इस तरह हमने "Programming kya Hai?  Programming कैसे सीखें? इसमें करियर कैसे बनाए?" इस आर्टिक्ल में Programming के बारे में जानकारी ली हैं। अगर आप Programming की शुरुआत या इसमें करियर करना चाहते हो तो शायद हमारा यह लेख आपके लिए फायदेमंद साबित होगा। अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे जरूर शेअर करें। आपके कोई सवाल हो तो आप हमें कमेंटद्वारा जरूर पूछे। धन्यवाद!